Temple Grandin

विश्व को हर तरह के दिमाग की आवश्यकता है

4,406,139 views • 19:43
Subtitles in 37 languages
Up next
Details
Discussion
Details About the talk

टेम्पल ग्रैन्डिन, जो कि बचपन से औटिस्म से ग्रस्त है, अपनए दिमाग की कार्यशैली के बारे मे चर्चा कर रही हैं —वह बता रही हैं कि कैसे उनकी "तस्वीरो मे सोचने की क्षमता" ने उन्हे उन समस्याओ का समाधान ढूढ़ने मे मदद दी जिन्हे अक्सर बाकि Neurotypical(वे जिन्हे औटिस्म नही है) दिमाग नही देख पाते हैं । वे कह्ती है कि दुनिया को औटिस्म स्पेक्ट्र्म से सोचने वाले व्यक्तियों की भी ज़रूरत है : दृश्य विचारकों, पैटर्न विचारकों, मौखिक विचारकों, और स्मार्ट और तेज़ बच्चों को सभी प्रकार की।

About the speaker
Temple Grandin · Livestock handling designer, autism activist

Through groundbreaking research and the lens of her own autism, Temple Grandin brings startling insight into two worlds.

Through groundbreaking research and the lens of her own autism, Temple Grandin brings startling insight into two worlds.